यूपी में गरमाई सियासत: Yogi Adityanath ने पूछा कोरोना कल में कहा था विपक्ष तो Akhilesh Yadav ने जिन्ना वाले बयान पर कहा 'फिर से किताबें पढ़ें '
यूपी में गरमाई सियासत: Yogi Adityanath ने पूछा कोरोना कल में कहा था विपक्ष तो Akhilesh Yadav ने जिन्ना वाले बयान पर कहा 'फिर से किताबें पढ़ें '

Yogi Adityanath बनाम Akhilesh Yadav : शनिवार 6 नवंबर का दिन यूपी की सियासत के लिए काफी भारी भरकम रहा जहाँ एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) ने विपक्ष पर कोरोना काल के दौरान गायब होने के आरोप लगाए तो दूसरी तरफ Samajwadi Party (समाजवादी पार्टी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) ने कहा की वो अपने जिन्ना वाले बयान पर संदर्भ क्यों साफ करें।

क्या कहा आज Akhilesh Yadav ने:

दरअसल, 31 अक्तूबर को सरदार पटेल (Sardar Patel) की जयंती के मौके पर हुए एक कार्यक्रम के दौरान Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) ने कहा था की देश के पहले प्रधानमंत्री (Jawaharlal Nehru), Mahatma Gandhi (महात्मा गांधी) और Jinnah (जिन्नाह) एक ही विश्वविद्यालय में पढ़े और Barrister (बेरिस्टर) बने।

उसके बाद आज यानि 6 नवंबर को लखनऊ के एक कार्यक्रम में प्रेस वार्ता (Press Conference) के दौरान जब एक पत्रकार ने Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) से पूछा की क्या वो अपने जिन्ना वाले बयान का संदर्भ साफ करना चाहेंगे ? तो उन्होंने कहा, “मुझे संदर्भ क्यों साफ़ करना चाहिए? मैं चाहता हूं कि लोग फिर से किताबें पढ़ें”। सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने मुख्यमंत्री Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) को आगामी विधान सभा चुनाव न लड़ने के लिए कहा की “बाबा मुख्यमंत्री को चुनाव नहीं लड़ना चाहिए क्योंकि वो जा रहे हैं”।

इसके बाद ही यूपी बीजेपी (BJP) अध्यक्ष Swatantra Dev Singh (स्वतंत्र देव सिंह) ने Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) के बयान पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया की, ”जिन्ना के प्रति प्रेम अभी भी अटूट है… @yadavakhilesh जी इतिहास की किताबें हिन्दुस्तान की पढ़नी है या पाकिस्तान की?”

Yogi Adityanath ने पूछा कोरोना काल में कहा था विपक्ष:

उधर शनिवार को ही इटावा में मुख्यमंत्री Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) ने विपक्षी दल और खासकर Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) पर जमकर हमला बोला, जनता से सम्बोधन के दौरान उन्होंने कहा, “आप याद करिए कोरोना के दौरान भी मैं आपके ज़िले में दो बार आया था व्यवस्था देखने के लिए लेकिन दूसरे दलों के लोग होम आइसोलेशन (Home Isolation) में थे। Home Isolation में जो आपके संकट के समय में घर में बैठकर के दुबक जाए, उसको चुनाव में भी दुबक के रहने की आवश्यकता है।”

Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) ने Akhilesh Yadav (अखिलेश यादव) पर निशान साधते हुए आगे कहा, “उनको वक्त आने पर उसी प्रकार से जवाब देने की आवश्यकता है जैसे वो लोग आपके संकट के समय में अपने घर तक सीमित थे, tweeter तक सीमित थे। उनसे कहना की “बबुआ ये tweeter ही वोट भी दे देगा”।


ALSO READ| Woman Teacher Sentenced To 10 Year Jail For Sexually Abusing 14 Year Old Boy

 

faraz
Faraaz
Journalism Student | iamfhkhan@gmail.com | + posts

Faraaz is pursuing Mass Communication & Journalism from BBD University Lucknow.