sudan riots after quran burning

Sweden Riots: दक्षिणी स्वीडिश शहर माल्मो (Malmo) में शुक्रवार को दंगा भड़क गया, जहां कम से कम 300 लोग इस्लाम विरोधी गतिविधियों के विरोध में इकट्ठा हुए थे. पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारी पुलिस अधिकारियों पर चीज़ें फेंक रहे थे और कार के टायर में आग लगा दी गई थी.

पुलिस के मुताबिक़, स्तिथि नियंत्रण में नहीं है लेकिन हालात को क़ाबू में लेने के लिए सक्रिय रूप से काम कर रही हैं. पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि प्रदर्शन उसी स्थान पर बढ़े थे जहां कुरान को जलाया गया था.

क्यों भड़की हिंसा?

इससे पहले, दक्षिणपंथी चरमपंथियों द्वारा माल्मो में कुरान (Quran) की एक प्रति जला दी गई थी. जिसके बाद नाराज लोगों ने आक्रामक विरोध प्रदर्शन किया (Sweden riots).

वहाँ के दैनिक अख़बार आफटनब्लेट (Aftonbladet) ने कहा कि मालमो में शुक्रवार को कई इस्लाम विरोधी गतिविधियां हुईं, जिनमें तीन लोगों ने एक सार्वजनिक चौराहे पर कुरान की एक प्रति को लात मार दी.

समाचार पत्र के अनुसार, एक दक्षिणपंथी नेता, रमसुस पालुदन (Rasmus Paludan) को गिरफ्तार किए जाने के बाद उनके समर्थकों ने कुरान (Quran) को जला दिया था.

दरअसल, देश में प्रतिबंधित नेता रमसुस पालुदन (Rasmus Paludan) को मालम में मीटिंग की इजाजत नहीं दी गई थी और स्वीडन के बॉर्डर पर ही रोक लिया गया था.

कौन है रसमस पालुदन ?

Rasmus Paludan is a Danish politician.

पलुदन एक डेनिश राजनेता और वकील हैं, जिन्होंने 2017 में दक्षिणपंथी पार्टी स्टैम कर्स (Stam Kurs) की स्थापना की थी. इसको अकसर Youtube पर मुस्लिम विरोधी वीडियो बनाने के लिए देखा गया है, जिनमें कुरान की बेहुरमती की जाती है. जिसे वह अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर उचित ठहराते हैं.

प्रशासन को शक था कि उनके आने से स्वीडन में कानून व्यवस्था बिगड़ जाएगी और सामाजिक शांति को नुकसान पहुंचेगा. इस वजह से उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था.

हालांकि, उन्हें गिरफ्तार किए जाने के बाद गुस्साए उनके समर्थकों ने रैली के दौरान कुरान को जला दिया. इसके आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है.

रमसुस पालुदन (Rasmus Paludan) ने पिछले साल भी कुरान (Quran) को जलाकर विवाद खड़ा कर दिया था. यही नहीं, उन्होंने मुस्लिमों में हराम मीट (Bacon) में कुरान (Quran) को रखा था. सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर भी उन्होंने नफरतभरे पोस्ट किए थे.

Read this also: Bengaluru: अपमानजनक पोस्ट को लेकर विधायक के घर पर हमला