Deepika Padukone in JNU: बॉलीवुड (Bollywood) अदाकारा दीपिका पादुकोण मंगलवार शाम जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में परिसर के अंदर हुई हिंसा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल हुईं. वह रविवार को हुई हिंसा में घायल जेएनयूएसयू (JNUSU) की अध्यक्ष आइशी घोष (Aishe Ghosh) से भी मिलीं. दीपिका अपनी आगामी रिलीज “छपाक” (Chhapaak) के प्रोमोशन के लिए राजधानी में हैं.

दीपिका ने घोष से बातचीत की और उनको गले लगाया. दीपिका ने कहा कि लोगों को बाहर आते हुए और बिना किसी डर के अपनी आवाज उठाते हुए देखकर खुशी होती है. मैं महसूस करती हूं कि लोग बाहर आ रहे हैं – सड़कों पर हों या जहां भी वे हैं – वे अपनी आवाज उठा रहे हैं और खुद को व्यक्त कर रहे हैं, क्योंकि यह महत्वपूर्ण है. अगर हम जीवन और समाज में बदलाव देखना चाहते हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि अपने दृष्टिकोण को आगे बढ़ाया जाए, समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार.

दीपिका की आने वाली फ़िल्म छपाक (Chhapaak) देश भर में 10 जनवरी 2020 के दिन रिलीज होने वाली है. यह फ़िल्म एसिड अट्टैक सरवाइवर (Acid Attack Survivor) लक्षमी (Lakshmi) के जीवन पर आधारित है.

शुक्रवार को उनकी फ़िल्म रिलीज़ हो रही है. प्रदर्शन में शामिल होने पर भाजपा के कई नेताओं ने उन पर हमला बोल दिया. दिल्‍ली भाजपा के प्रवक्‍ता तजिंदर पाल बग्‍गा ने ट्वीट कर दीपिका पादुकोण की फिल्‍म का बहिष्‍कार करने की मांग की.

सोमवार रात, जेएनयू में हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों के साथ एकजुटता के साथ विरोध प्रदर्शन करने वालों के साथ मुंबई में कार्टर रोड पर निर्देशक विशाल भारद्वाज, अनुराग कश्यप, ज़ोया अख्तर और ऋचा चड्ढा जैसी बॉलीवुड हस्तियों का एक सैलाब उमड़ पड़ा. फिल्म बिरादरी प्रमुख व्यक्तित्वों के साथ सबसे आगे थी, जिसमें अभिनेता स्वरा भास्कर, दीया मिर्जा और अली फज़ल के साथ-साथ सुधीर मिश्रा, अनुभव सिन्हा, राहुल ढोलकिया और नीरज घायवान भी शामिल थे.