Arnab Goswami Case LIVE Updates: सोशल मीडिया पर विरोध प्रदर्शन

Arnab Goswami Case LIVE Updates: अलीबाग के कोविड क्‍वारंटाइन केंद्र से महाराष्‍ट्र में रायगढ़ जिले की Taloja Jail shift कर दिया गया.

arnab-goswami-case-live-updates-arnab-shifted-to-taloja-jail

Arnab Goswami Case LIVE Updates: महाराष्ट्र पुलिस ने Arnab Goswami को इंटीरियर डिजाइनर Anvay Naik और उनकी मां को 2018 में कथित रूप से खुदकुशी के लिये उकसाने के सिलसिले में 4 November को Lower Parel स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया था.

जिसके बाद एक निचली अदालत ने उन्हें 18 November तक न्यायिक हिरासत (Judicial Custody) में भेज दिया. फिलहाल अर्नब को एक स्थानीय स्कूल में रखा गया था, जो अलीबाग जेल का कोविड-19 केन्द्र है. चार दिनों तक यहां रहने के बाद अब उन्हें तलोजा जेल में शिफ्ट कर दिया गया है.

रिपब्लिक टीवी के मुख्‍य संपादक Arnab Goswami, Firoz Shaikh और Nitesh Sharda को रविवार सुबह अलीबाग के कोविड क्‍वारंटाइन केंद्र से महाराष्‍ट्र में रायगढ़ जिले की तालोजा जेल (Taloja Jail) स्‍थानांतरित कर दिया गया.

अर्नब को तलोजा जेल शिफ्ट करने पर सोशल मीडिया पर भी विरोध तेज़ हो गया है. जहा लोग ट्विटर पर अर्नब के समर्थन मे उतर गये हैं. और ट्वीट कर के उनके साथ खड़े होने का दावा कर रहे हैं. और माँग कर रहे हैं कि उन्हे जल्द से जल्द रिहा किया जाए.

Arnab Goswami Case LIVE Updates क्या था पूरा मामला यहाँ पढ़े ?

बताया जा रहा है कि इस जेल में भीमाकोरेगांव केस के मुजरिम तो हैं ही कई खूंखारआपराधिक मामलों के आरोपी भी बंद हैं. पुलिस को ख़बर मिली कि स्कूल में बंद Arnab किसी के फोन से बात कर रहा था.

जाँच अधिकारी और रायगढ़ अपराध शाखा के अधिकारी जमील शेख ने कहा, ‘शुक्रवार देर शाम हमें पता चला कि गोस्वामी सोशल मीडिया पर सक्रिय थे, किसी के मोबाइल फ़ोन का उपयोग कर रहे थे.

मामले के जाँच अधिकारी के तौर पर मैंने अलीबाग जेल के अधीक्षक को पत्र लिखकर जाँच रिपोर्ट माँगी कि कैसे वह क्वॉरंटीन सेंटर में मोबाइल उपयोग कर रहे थे. इसके बाद हमने उन्हें रविवार सुबह तलोजा जेल में स्थानांतरित करने का फ़ैसला किया.’

जेल अधीक्षक ए टी पाटिल (AT Patil) ने बताया कि सुरक्षा और अति विशिष्‍ट मामला होने के कारण वरिष्‍ठ अधिकारियों से इन्‍हें Taloja Jail भेजने का अ‍नुरोध किया गया था.

हालाँकि, उच्च न्यायालय ने शनिवार को अर्नब गोस्वामी की अंतरिम जमानत याचिका पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया.

अर्नब को तलोजा जेल में शिफ्ट करने पर भाजपा नेता कपिल मिश्रा और तेजिंदर बग्गा विरोध प्रदर्शन करने के लिए राजघाट पहुँचे. लेकिन पुलिस ने रविवार को भाजपा नेता कपिल मिश्रा और तेजिंदर बग्गा को राजघाट पर प्रदर्शन करने से रोका और हिरासत में ले लिया.

दोनों नेताओं को राजेन्द्र नगर थाने ले जाया गया. दिल्ली के पूर्व मंत्री मिश्रा ने कहा कि गोस्वामी को महाराष्ट्र पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के विरोध में प्रदर्शन करने की योजना थी.

उन्होंने कहा, ”देश में पहली बार ऐसा हुआ है कि सरकार से सवाल करने के लिए किसी पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. हम महाराष्ट्र सरकार द्वारा गोस्वामी पर किये गए अत्याचार का विरोध करते हैं”.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मिश्रा और बग्गा समेत चार लोगों को निषेधाज्ञा का उल्लंघन कर राजघाट पर प्रदर्शन करने की कोशिश करने के लिये हिरासत में ले लिया गया था.

Arnab ने गंभीर आरोप लगते हुए कहा कि उन्हें घसीटा गया. रात को ही तलोजा जेल में लाने की कोशिश हुई, जबकि सुबह जेलर ने उन्हें मारा. उन्होने मांग उठाई है कि मामले में Supreme Court और केंद्र सरकार हस्तक्षेप करें.

तलोजा जेल ले जाते वक्त Republic TV के Editor-in-Chief Arnab Goswami वैन से चिल्ला कर उन्होंने कहा, “मेरी जान को खतरा है. मुझे मेरे वकीलों से बात नहीं करने दी जा रही है. आज सुबह मुझे पीटा गया”.

Read Also | Transition Website: Biden’s campaign formally launches its website