Umar Khalid Ko Riha Karo: व्यक्तिगत स्वतंत्रता सिर्फ़ ख़ास लोगो के लिए ?

Umar Khalid Ko Riha Karo Trends on Twitter: खबर लिखते समय इस हैश टैग को लेकर लगभग 10 हज़ार से भी ज़्यादा लोग ट्वीट कर चुके थे. और यह ट्रेंड ट्विटर का टॉप ट्रेंड बना हुआ था.

Umar Khalid Ko Riha Karo
Image Source: The Hindu

Umar Khalid Ko Riha Karo Trends on Twitter: Delhi Police की Special Celll ने दिल्ली हिंसा मामले में Umar Khalid को 14 September को UAPA के तहत गिरफ्तार किया था.

दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने पिछले महीने तिहाड़ जेल में बंद जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के पूर्व छात्र उमर खालिद (Umar Khalid) की न्यायिक हिरासत अवधि 20 November तक के लिए बढ़ा दी थी.

उन्हे गिरफ्तार किए हुए 2 महीने, लगभग 60 दिन हो गये हैं. दिल्ली पुलिस ने खालिद को 14 सितंबर को गिरफ्तार किया था.

हाल ही में दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने भी पुलिस को केस चलाने की मंज़ूरी दे दी थी.

सोशल मीडिया पर उनकी रिहाई को लेकर ट्विटर स्टॉर्म चल पड़ा है. Umar Khalid Ko Riha Karo trends on  Twitter पर ट्रेंड कर रहा है.

खबर लिखते समय इस हैश टैग #UmarKhalidKoRiha को लेकर लगभग 10 हज़ार से भी ज़्यादा लोग ट्वीट कर चुके थे. और यह ट्रेंड ट्विटर का टॉप ट्रेंड बना हुआ था.

लोग अर्नब को मिली बेल को लेकर भी सवाल उठा रहे थे. कि किसी विशेष व्यक्ति की व्यक्तिगत स्वतंत्रता का अत्यधिक महत्व है। उमर खालिद की गिरफ्तारी को 60 दिन हो चुके हैं। क्या उनकी व्यक्तिगत स्वतंत्रता और अन्य राजनीतिक कैदियों के लिए दुनिया के सबसे बड़े ‘लोकतंत्र’ में कोई व्यक्तिगत स्वतंत्रता नही?

Read Also | Abdul Salam suicide case: पुलिस प्रताड़ना से तंग आकर मुस्लिम परिवार ने की सामूहिक खुदकुशी

https://twitter.com/PoS__community/status/1327217179700301824