देश को जगाने के लिए जामिया के छात्रों को धन्यवाद: स्वरा भास्कर

Jamia Protest: बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ पूरे देश को जगाने के लिए जामिया  (Jamia) के छात्रों की प्रशंसा की.

फिल्म ‘रांझणा’ (Ranjhna) में उनके सह अभिनेता रहे ज़ीशान अय्यूब (Zeeshan Ayyub) के साथ आयीं स्वरा ने जामिया के बाहर नये कानून के खिलाफ एक जनसभा संबोधित की.

जामिया के छात्रों ने ‘इंकलाब ज़िंदाबाद’ (Inquilab Zindabaad) और ‘आज़ादी’ के नारों से नये साल का आग़ाज़ किया.

CAA के खिलाफ स्वरा ने कहा कि यह कानून ‘खास मकसद से लाया गया’ है. ‘‘इसमें कहीं कोई दो राय नहीं है कि सीएए (CAA), एनआरसी (NRC) और एनपीआर (NPR) खास मकसद से लाये गये कानून हैं. उनका खास मकसद वाला एजेंडा है. यह नया कानून न केवल मुसलमानों पर बल्कि देश के संविधान और हमारे देश के मूल विचार पर भी हमला है’’, स्वरा ने कहा.

उन्होंने कहा, ‘‘ जो लोग नागरिकता की परीक्षा लेने की बात करते हैं, मैं उन्हें बता देना चाहती हूं कि हमें देश के मुसलमानों पर सवाल खड़ा करने का कोई हक नहीं है. भारत के मुसलमानों ने 1947 में अग्निपरीक्षा दी तथा अब और कोई परीक्षा पास करने की जरूरत नहीं है”.

उन्होंने कहा, ‘‘आप देश के भले के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं, लेकिन जिन्ना के सपने को पूरा कर रहे हैं. जो लोग यहां खड़े हैं, वे गांधीजी का सपना पूरा कर रहे हैं.
अभिनेत्री ने कहा कि पिछले 5-6 सालों से ‘टुकड़े टुकड़े’ गैंग (Tukde Tukde Gang), राष्ट्रद्रोही (Anti national) जैसे शब्दों CAA और NRC जैसे कानूनों के माध्यम से नफरत को वैध बनाया जा रहा है.

उन्होंने कहा कहा, ‘‘लेकिन हम सभी समझ गये हैं कि क्या खेल है और हम उन्हें यह खेल नहीं खेलने देंगे.’’
उन्होंने जामिया के छात्रों और नागरिक संस्थाओं के सदस्यों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन के लिए धन्यवाद दिया.