Jamia Millia Islamia बड़े पैमाने पर मनाएगी Mahatma Gandhi की 151 वीं जयंती

Jamia Millia Islamia Gandhi Jayanti 2020

Jamia Millia Islamia: असहयोग आंदोलन के बीच राष्ट्रवादी विचार को लेकर पनपा जामिया (Jamia Millia Islamia) जब वित्तीय संकट से जूझ रहा था तो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) ने पैसों की तंगी को लेकर कहा था कि आर्थिक परेशानियों के बावजूद जामिया को चलाना ही होगा. भले ही इसके लिए मुझे भीख ही क्यों न मांगनी पड़े.

यही वजह रही है कि गाँधी द्वारा रखी गई इसकी नीव और गाँधी के सिद्धांतों पर चलने वाली यह यूनिवार्सिटी गाँधी जयंती हर साल एक बड़े पैमाने पर मानती है.

इस वर्ष 2 october को जामिया (Jamia) बड़े पैमाने पर महात्मा गांधी की 151 वीं जयंती (Mahatma Gandhi’s 151 Birth Anniversary) मनाने जा रहा है.

ये जानकारी जामिया मिल्लिया इस्लामिया के जनसंपर्क एवं मीडिया समन्यवक कार्यालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी.

जामिया के जनसंपर्क अधिकारी एवं मीडिया समन्वयक (PRO-Media Coordinator) अहमद अज़ीम (Ahmad Azeem) ने जानकारी देते हुए बताया कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) 2 October, 2020 को महात्मा गांधी की 151 वीं जयंती मनाने के लिए कई आयोजन करेगा.

विश्वविद्यालय के डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर (Dean Students Welfare, DSW) कार्यालय, एनसीसी (NCC) और एनएसएस (NSS) इकाइयां इन कार्यक्रमों का आयोजन और समन्वय करेंगी.

विश्वविद्यालय का DSW कार्यालय ‘फिट इंडिया फ्रीडम रन‘ (Fit India Freedom Run) का आयोजन करेगा जो जामिया के Gate No. 13 के डॉ एम ए. अंसारी आडोटोरियम (Dr M A Ansari Auditorium) से सुबह 10 बजे शुरू होगी.

उन्होंने आगे बताया कि विश्वविद्यालय के छात्र, शिक्षक और गैर-शिक्षण कर्मचारी इसमें भाग लेंगे. विश्वविद्यालय परिसर में सुबह 11 बजे वृक्षारोपण अभियान शुरू होगा.

जामिया के रजिस्ट्रार (Jamia Registrar), ए.पी. सिद्दीकी (A P Siddiqui) इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे और विश्वविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर (Chief Proctor), प्रोफेसर वसीम खान (Prof. Waseem Khan) गेस्ट ऑफ ऑनर होंगे (Guest of Honour).

Read Also | Jamia: “We Are Not Terrorised”

नेशनल एलायंस ऑफ पीपुल्स मूवमेंट्स (National Alliance of Peoples Movement, NAPM) के संयोजक विमल भाई (Vimal Bhai), दोपहर 3 बजे ’समकालीन भारत में गांधी की प्रासंगिकता’ (Relevance of Gandhi in Contemporary India) पर ऑनलाइन व्याख्यान देंगे.

अहमद अज़ीम ने सूचित करते हुए बताया, व्याख्यान ज़ूम (ZOOM) पर आयोजित किया जाएगा और मीटिंग आईडी के साथ इससे जुड़ा जा सकता है.

https://us04web.zoom.us/j/7349459434?pwd=U05Sc3NQSEdPZ0Vhbi9PTK1jRVE0UT09

Meeting ID: 7349459434 and Password: Mahatma151

शाम 4 बजे एक डिजिटल पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता (Digital Poster Making Competition) आयोजित की जाएगी और इच्छुक व्यक्ति अपने पोस्टर Ahusain7@jmi.ac.in पर भेज सकते हैं.

जामिया (Jamia) की शुरुआत 29 अक्टूबर 1920 को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ (Aligarh) से हुई. इसकी स्थापना स्वतंत्रता सेनानियों के एक समूह ने की थी. जिसमें प्रमुख तौर पर मुहम्मद अली जौहर (Mohammad Ali Jauhar), शौकत अली (Shaukat Ali), महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi), हकीम अजमल खान (Hakim Ajmal Khan), महमूद-उल-हसन (Mehmood-ul-Hasan) थे. 1925 में यूनिवर्सिटी को अलीगढ़ से दिल्ली शिफ्ट किया गया.

और इसी साल जामिया अपने सौवीं वर्षगाठ भी मनाएगी.

Read Also | काश यही लाठियाँ, यही पुलिस हाथरस की दलित बेटी की रक्षा में खड़ी होती

Jamia millia islamia admission 2020, jamia millia islamia notable alumni, jamia millia islamia courses, jamia millia islamia school admission 2020-21, jamia millia islamia b tech admission 2020, jamia millia islamia entrance exam date 2020 and More News.