72 साल में पहली बार पुलिस प्रदर्शन पर ! क्या ये है भाजपा का न्यू इंडिया ?

दिल्ली पुलिस आयुक्त अतुल्य पटनायक ने विरोध कर रहे पुलिसकर्मियों को आग्रह करते हुए कहा कि पुलिस आम जनता की रक्षक है जनता और सरकार की पुलिस से अपेक्षाएं हैं और यही हमारा बड़ा दायित्व है कृपा ड्यूटी पर वापस जाएं.

राष्ट्रीय राजधानी के आरटीओ (RTO) स्थित पुराने पुलिस मुख्यालय के पास दिल्ली पुलिसकर्मियों ने अपने आला अफसरों के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया. यह विरोध प्रदर्शन शनिवार को तीस हजारी अदालत में वकीलों द्वारा पुलिसकर्मियों पर हमले के खिलाफ सीनियर अफसरों की चुप्पी को लेकर किया गया है. प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मियों ने हाथ में काली पट्टी बांधकर निष्पक्ष न्याय की मांग की है. दूसरी तरफ पुलिसकर्मियों के परिजनों ने दिल्ली–चंड़ीगढ़ नेशनल हाईवे में विरोध प्रदर्शन कर यातायात बाधित करने का प्रयास किया.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी जब हाईवे पर पंहुचे तब जा कर परिजनों को समझाबूझा कर शांत कराया जा सका. इस विरोध प्रदर्शन मे पुलिसकर्मी पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन बनाने की मांग कर रहे हैं और अगर कोई पुलिस पर हमला करता है तो फौरन कार्रवाई होनी चाहिए. हांलाकि 10 घंटे बाद पुलिस की सभी मांगें मान ली गई जिसके बाद मुख्यालय के सामने से प्रर्दशनकारी धरने को खत्म करते हुए वहां से चले गए.

“ड्यूटी पर वापस जाएं” – दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक

दिल्ली पुलिस आयुक्त अतुल्य पटनायक ने विरोध कर रहे पुलिसकर्मियों को आग्रह करते हुए कहा कि पुलिस आम जनता की रक्षक है जनता और सरकार की पुलिस से अपेक्षाएं हैं और यही हमारा बड़ा दायित्व है कृपा ड्यूटी पर वापस जाएं. गौरतलब है कि तीसहजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों की बीच हुई हिंसा के बाद दिल्ली उच्च न्यायालय नें कड़ा रूख अपनाते हुए सेवानिवृत्त न्यायाधीश एसपी गर्ग की देखरेख में न्यायिक जांच के आदेश दिए है.

जिसके बाद न्यायालय ने दो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का तबादला करने के साथ दो अन्य अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश दिया है, दिल्ली पुलिसकर्मियों ने एकता दिखाते हुए विरोध प्रदर्शन कर निलंबित हुए अधिकारियों का निलंबन वापस लेने के साथ दोषी वकीलों के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है.

क्या यही बीजेपी की न्यू इडिया ?

दिल्ली में पुलिसकर्मियों के प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए पुछा है कि क्या यही बीजेपी की न्यू इडिया है? कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि “72 साल में पहली बार –पुलिस प्रदर्शन पर! क्या ये है भाजपा का न्यू इंडिया देश को कहाँ और ले जाएगी भाजपा? कहाँ गुम हैं गृह मंत्री श्री अमित शाह? मोदी है तो मुमकिन है”.

हालाँकि खबर लिखते समय तक भाजपा की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया नही आई है.