Baba Ka Dhaba Delhi: जब आंसू , खुशी में तब्दील हो गए

दिल्ली (Delhi) के मालवीय नगर (Malviya Nagar) में छोटा सा ढाबा (Baba Ka Dhaba) चलाने वाले एक व्यक्ति का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें वो बिक्री ना होने, काम में मुश्किल की बात करते वक्त रो पड़ता है.

Baba Ka Dhaba Delhi: 80 वर्षीय कांता प्रसाद और उनकी पत्नी बदामी देवी दोनों मिलकर एक ढाबा चलाते हैं, जिसका नाम है बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba). दिल्ली के मालवीय नगर (Malviya Nagar) में हनुमान मंदिर (Hanuman Mandir) के सामने यह ढाबा हैं.

कोरोना काल की वजह से उनका ढाबा बंद हो गया था और अनलॉक के बाद कोरोना के डर से लोग उनके ढाबे पर खाना खाने नहीं आते. इस कारण उनका गुजर-बसर नहीं हो पा रहा था.

इन्हीं का एक वीडियो ट्विटर पर वायरल हो गया. वीडियो में बुजुर्ग अपनी हालत बयां करते हुए भावुक हो जाता है. उसके बाद वीडियो शूट करने वाला उनके खाने की तारीफ करता है और लोगों को यहां आने की अपील करता है. जिसके बाद, ये वीडियो देखते ही देखते 10 लाख से अधिक लोगों ने देख लिया. और वीडियो वायरल होने के बाद से ही अब यहां लोगों का तांता लगा है.

crowd at baba ka dhaba delhi malviya nagar hanuman mandir

24 घंटे के अंदर ही ये वीडियो इतना वायरल हुआ कि लोग खुद उनकी मदद के लिए पहुंच गए. इस वीडियो के बाद सुबह से ही लोगों की भारी भीड़ ढाबे पर नजर आई. 11:00 बजते-बजते ढाबे का सारा खाना खत्म हो गया. खाना खाने वाले लोग बाबा के selfie लेते भी नज़र आए.

जिस बाबा की आंखों में कल तक आंसू थे, वो आज खुशी में तब्दील हो गए हैं. हर कोई बाबा के ढाबे से खाना पैक करवाकर घर लेकर जाता दिखा.

जिसके बाद गुरुरवार रात Zomato ने भी ट्वीट करके बताया, ‘Baba Ka Dhaba Delhi’ अब Zomato पर ल‍िस्‍टेड है. हमारी टीम वहां के बुजुर्ग दंपति के साथ काम कर रही है’.

बाबा के चेहरे पर आज कुछ अलग ही खुशी थी. खिलखिलाते चेहरे के साथ बाबा कांता प्रसाद ने कहा भगवान का शुक्रिया ओर गौरव जिसने मेरा दर्द देश के सामने रखा उसका भी. बाबा ने बताया कि वह पिछले 30 साल से ढाबा चलाते हैं. कभी इतने लोग नहीं आए.

Read Also | Boycott Mirzapur 2: गुड्डू भैया की बढ़ी मुश्किलें