केजरीवाल सरकार ने सोमवार को ‘फरिश्ते दिल्ली के’ स्कीम लॉन्च किया. दिल्ली सरकार ने दुर्घटना के शिकार हुए लोगों को अस्पताल ले जाने के लिए मदद करने वालों को पुरस्कृत करने की घोषणा की.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने जान बचाने वालों को ‘फरिश्ते दिल्ली के’ नाम दिया है. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने दिल्ली के लोगों से दुर्घटना के शिकार लोगों की मदद करने और उन्हें अस्पताल पहुंचाने का अनुरोध किया.

उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि दिल्ली का हर नागरिक फरिश्ता बने. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे दुर्घटना के शिकार लोगों को तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुंचाये चाहे वे प्राइवेट हो या सरकारी. इलाज का खर्च पूरा सरकार उठायेगी.

दुर्घटना के शिकार लोगों को अस्पताल पहुंचाने वालों को पुरस्कृत कर फरिश्ते का प्रमाणपत्र दिया जायेगा. मुख्यमंत्री ने कहा, अगर हादसे के एक घंटे के भीतर पीड़ितों को अस्पताल पहुंचा दिया जाए तो उनकी जान बचायी जा सकती है.

केजरीवाल ने कहा कि यह बहुत अनमोल समय होता है और अगर उस दौरान पीड़ित को अस्पताल पहुंचा दिया जाया तो उसके बचने की बहुत उम्मीद होती है.

स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने बताया कि मदद करने वालों को 2 हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here