PM Modi की Bathinda से वापसी के बाद BJP और Congress में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू
PM Modi की Bathinda से वापसी के बाद BJP और Congress में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू

Debate Between BJP, Congress After PM Modi Returns From Bathinda: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बुधवार 5 जनवरी को पंजाब के फ़िरोज़पुर में एक रैली करनी थी, किन्तु रैली अंतिम समय पर रद्द कर दी गई। पहले रैली के रद्द होने के पीछे खराब मौसम को माना जा रहा था, फिर गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया की सुरक्षा व्ययस्था के कारण रैली रद्द की क्योंकि कुछ प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री के काफिला का रास्ता ब्लॉक कर दिया था लेकिन फिर काँग्रेस ने आरोप लगाया की रैली रद्द करने की असली वजह थी रैली में मौजूद लोगों की कम संख्या।

चलिए बताते हैं आपको की आज पूरे दिन Punjab (पंजाब) में क्या हुआ:

Punjab (पंजाब) सरकार ने करी PM Modi की सुरक्षा व्ययस्था में चूक : गृह मंत्रालय

गृह मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) बठिंडा पहुंचे जहाँ से उन्हें हेलिकौप्टर से हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था लेकिन खराब मौसम के कारण पीएम ने मौसम सही होने का इंतिज़ार किया। 20 मिनट तक मौसम ठीक होने का इंतिज़ार करने के बाद यह तय किया गया की शहीद स्मारक तक सड़क मार्ग द्वारा जाया जाएगा। आगे बयान में कहा गया की,

हुसैनीवाला में राष्ट्रीय स्मारक से लगभग 30 किलोमीटर दूर जब पीएम (PM) का काफिला फ्लाइओवर पर पहुँच तो पाया गया की कुछ प्रदर्शनकारीयों ने सड़क को ब्लॉक कर दिया था। पीएम 15-20 मिनट तक फ्लाइओवर पर फंसे रहे। यह पीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक थी।

जब PM Modi (पीएम मोदी) ने कहा “अपने सीएम को थैंक्स कहना की मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया”:

गृह मंत्रालय के मुताबिक पंजाब सरकार को पीएम के रूट के बारे में पहले ही बता दिया गया था और यह राज्य सरकार की जिम्मेदारी थी की वो सुरक्षा के कड़े इंतिज़ाम करती। आकस्मिक प्लान को ध्यान में रखकर Punjab (पंजाब) सरकार को सड़क मार्ग पर भी अतिरिक्त पुलिस लगानी थी जो की नहीं किया गया।

PM Modi का काफिला पंजाब के हुसैनीवाला के पास:
PM Modi का काफिला पंजाब के हुसैनीवाला के पास:
PM Modi का काफिला पंजाब के हुसैनीवाला के पास:
PM Modi का काफिला पंजाब के हुसैनीवाला के पास:

सुरक्षा चूक के बाद पीएम के काफिले को वापस Bathinda (बठिंडा) एयरपोर्ट की तरफ मोड़ लिया गया। गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस विषय में विस्तरत रिपोर्ट मांगी और पंजाब सरकार ने भी कड़ी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। वहीं ANI के मुताबिक बठिंडा एयरपोर्ट पहुँचने पर अधिकारियों से प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Modi) ने कहा,

अपने सीएम को थैंक्स कहना की मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा लौट पाया।

प्रधानमंत्री के इस बयान के वायरल होने के बाद BJP ने Congress पर जमकर हमला बोला:

पीएम मोदी के पंजाब रैली के इस मामले के प्रकाशन में आने के बाद भाजपा अध्यक्ष J.P. Nadda ने कहा,

बेहद चिंताजनक बात यह है की जहाँ तक पीएम की बात है तो यह घटना सुरक्षा में भी एक बड़ी चूक थी। प्रदर्शनकारियों को प्रधानमंत्री के रास्ते में जाने दिया गया जबकि पंजाब के सीएस और डीजीपी ने एसपीजी को आश्वासन दिया की रास्ता साफ है।

उन्होंने पंजाब सरकार और Congress (काँग्रेस) पार्टी पर आरोप लगाते हुए आगे कहा की, “मामले को खराब बनाने के लिए, सीएम चन्नी ने फोन पर बात करने या इसे हल करने से इनकार कर दिया। पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली यह रणनीति लोकतांत्रिक सिद्धांतों में विश्वास रखने वाले किसी भी व्यक्ति को पीड़ा देगी”।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री Yogi Adityanath (योगी आदित्यनाथ) ने भी पीएम के काफिले की वापसी पर कहा,

आदरणीय PM श्री Narendra Modi जी के पंजाब दौरे के दौरान उनकी सुरक्षा के साथ जो खिलवाड़ पंजाब सरकार के संरक्षण में आज हुआ है वह पंजाब में व्याप्त अराजकता और दुर्व्यवस्था का एक जीता जागता उदाहरण है। कांग्रेस शासित पंजाब की सरकार को देश की जनता से इस बात के लिए माफी मांगनी चाहिए।

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, “कांग्रेस सदैव से इस देश की संवैधानिक व्यवस्थाओं की अवमानना करती रही है और आज इसका उदाहरण एक बार फिर से देश ने देखा है। आदरणीय प्रधानमंत्री जी की सुरक्षा के साथ आज हुई गंभीर चूक अक्षम्य है और यह पंजाब सरकार और कांग्रेस की एक दुरभिसंधि को प्रदर्शित करता है”।

वहीं भाजपा IT Cell के प्रमुख Amit Malviya (अमित मालवीय) ने एक विडिओ साझा करते हुए ट्वीट किया, “यह जानबूझकर किया गया सुरक्षा उल्लंघन और कुछ नहीं बल्कि प्रधानमंत्री की हत्या का प्रयास है और इसके लिए पंजाब की कांग्रेस सरकार जिम्मेदार है। सिर्फ इसलिए कि कांग्रेस पीएम मोदी को राजनीतिक रूप से नहीं हरा सकती, वे उन्हें खत्म करने के लिए असंवैधानिक उपाय कर रहे हैं”।

खाली कुर्सियों की वजह से रद्द हुई रैली: Congress

दूसरी तरफ काँग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री की रैली रद्द होने की वजह लोगों की काम संख्या बताई। सुरक्षा चूक और खराब मौसम के आरोपों को खारिज करते हुए काँग्रेस ने कहा की फ़िरोज़पुर में रैली इसलिए रद्द हुई क्योंकि वहाँ कुर्सियाँ खाली थीं। अपने आधिकारिक ट्विटर हैन्डल से एक विडिओ साझा करते हुए काँग्रेस पार्टी ने कहा,

तो वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री Charanjit Singh Channi (चरणजीत सिंह चन्नी) ने इस पूरे मामले में प्रेस वार्ता के दौरान सफाई देते हुए कहा,

हमने उनसे (PMO) से खराब मौसम की स्थिति और विरोध के कारण यात्रा बंद करने के लिए कहा था। हमें उनके (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) के अचानक मार्ग परिवर्तन की कोई सूचना नहीं थी। पीएम के दौरे के दौरान सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई।

मुख्यमंत्री चन्नी ने आगे कहा, “मुझे आज बठिंडा में पीएम की अगवानी करनी थी, लेकिन जिन लोगों को मेरे साथ जाना था, वे COVID पॉजिटिव पाए गए। इसलिए, मैं आज पीएम को रिसीव करने नहीं गया क्योंकि मैं कुछ लोगों के निकट संपर्क में था जिनका कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया था”। 

“मुझे खेद है कि पीएम मोदी को आज फिरोजपुर जिले के दौरे के दौरान वापस लौटना पड़ा। हम अपने पीएम का सम्मान करते हैं”, चरणजीत सिंह चन्नी ने आगे कहा।

इतना ही नहीं, पंजाब काँग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैन्डल द्वारा एक दस्तावेज़ साझा किया गया जिसमें पंजाब काँग्रेस ने कहा की पीएम मोदी के शेड्यूल में शामिल नहीं थी रोड ट्रिप, सिर्फ बठिंडा एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर से फिरोजपुर पहुँचने का था शेड्यूल। 


ALSO READ| फैंस खुद रख सकते हैं अपनी Lucknow IPL Team का नाम, जानिए कैसे।

faraz
Faraaz
Journalism Student | iamfhkhan@gmail.com | + posts

Faraaz is pursuing Mass Communication & Journalism from BBD University Lucknow.